हरियाणा के माइनिंग कारोबारियों पर पड़ी ईडी रेड क्रांग्रेस के 3 एमएलए साहित 20 नेताओं के ठिकाने खंगाल रही टीमें।

हरियाणा के माइनिंग कारोबारियों पर पड़ी ईडी रेड क्रांग्रेस के 3 एमएलए साहित 20  नेताओं के ठिकाने खंगाल रही टीमें।

उमाकांत त्रिपाठी।
हरियाणा में एन्फॉर्समेंट डायरेक्टोरेट (ED) ने माइनिंग कारोबारियों के 20 ठिकानों पर रेड की है। इन कारोबारियों में सोनीपत से कांग्रेस के MLA सुरेंद्र पंवार, उनके पार्टनर सुरेश त्यागी, करनाल में इनेलो से भाजपा में आए मनोज वधवा और यमुनानगर के इनेलो नेता दिलबाग सिंह शामिल हैं।
ED की टीमें गुरुवार की सुबह खनन कारोबार में मनी लॉन्ड्रिंग की जांच के लिए यमुनानगर, सोनीपत, मोहाली, फरीदाबाद, चंडीगढ़ और करनाल पहुंची। इस दौरान लोकल पुलिस के साथ केंद्रीय सुरक्षा बल भी तैनात किए गए हैं। कांग्रेस MLA पंवार का हरियाणा के साथ राजस्थान में भी खनन का कारोबार है।

मनी लॉन्ड्रिंग के शक में जांच
जैसे ही ED की टीम इन 20 ठिकानों पर पहुंची तो उसके बाद घर और ऑफिस से न तो किसी को बाहर निकलने दिया और न ही अंदर जाने दिया। ED के अधिकारी वहां दस्तावेजों की छानबीन में लगे हैं।

घर पर ही थे विधायक
ED की टीमें सुबह ही सोनीपत के सेक्टर 15 में कांग्रेस विधायक सुरेंद्र पंवार के घर पहुंच गईं। उस वक्त MLA पंवार घर पर ही मौजूद थे। उनकी मौजूदगी में ही उनके घर और ऑफिस में खनन कारोबार से जुड़े डॉक्यूमेंट्स खंगाले जा रहे हैं। एक टीम उनके माइनिंग बिजनेस के पार्टनर सुरेश त्यागी के घर भी पहुंची। वहां भी जांच की जा रही है।

करनाल के वधवा CM के खिलाफ चुनाव लड़ चुके
इसके अलावा करनाल में भाजपा नेता मनोज वधवा के घर भी ED ने रेड की है। उनका यमुनानगर में खनन का कारोबार है। 2014 में इनेलो की टिकट पर उन्होंने CM मनोहर लाल के खिलाफ करनाल से विधानसभा चुनाव लड़ा था। जिसमें वह हार गए। इसके बाद वह भाजपा में शामिल हो गए।

इनेलो नेता पूर्व विधायक रह चुके
वहीं यमुनानगर के पूर्व विधायक इनेलो नेता दिलबाग सिंह के घर और ऑफिस पर ED ने रेड की। दिलबाग सिंह इंडियन नेशनल लोक दल की पार्टी से यमुनानगर के विधायक रह चुके हैं। उन्होंने 2014 में इनेलो से चुनाव लड़ा था, जिसमें वह भाजपा कैंडिडेट घनश्याम दास अरोड़ा से हार गए।