केंद्रीय राज्यमंत्री सावित्री ठाकुर का वीडियो वायरल: लिखना था- ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’, लिखा- बेढी पडाओ, बच्चाव

केंद्रीय राज्यमंत्री सावित्री ठाकुर का वीडियो वायरल: लिखना था- ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’, लिखा- बेढी पडाओ, बच्चाव

उमाकांत त्रिपाठी।केंद्रीय राज्यमंत्री सावित्री ठाकुर ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ स्लोगन ही ठीक से नहीं लिख पाईं। उन्होंने लिखा- बेढी पडाओ, बच्चाव। ठाकुर मोदी कैबिनेट में महिला बाल विकास राज्य मंत्री हैं।
मामला धार में मंगलवार का है। यहां तीन दिवसीय प्रवेशोत्सव कार्यक्रम की शुरुआत करने के लिए केंद्रीय राज्यमंत्री सावित्री ठाकुर को बुलाया गया था। वे इस सरकारी कार्यक्रम में शिक्षा रथ को हरी झंडी दिखाने के लिए पहुंची थीं। इसी रथ के फ्लैक्स पर ठाकुर ने गलत स्लोगन लिखा।

मंत्री के गलत स्लोगन लिखने के फोटो और वीडियो वायरल हो रहे हैं। वहीं, नेता प्रतिपक्ष उमंग सिंघार ने सोशल मीडिया पर लिखा- जनप्रतिनिधि कैसा होना चाहिए, इसका कोई मापदंड तो तय नहीं है लेकिन कम से कम उसे अक्षर ज्ञान तो होना ही चाहिए।केंद्रीय राज्यमंत्री सावित्री ठाकुर ने शिक्षा रथ के फ्लैक्स पर ये स्लोगन लिखा था।

कांग्रेस नेता सदस्य मुकाम सिंह बोले
कांग्रेस नेता व जिला पंचायत सदस्य मुकाम सिंह अलावा ने फेसबुक पर लिखा- हाल ही में लोकसभा का चुनाव जीतीं सांसद को बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ का स्लोगन लिखना नहीं आ रहा है। बड़ा दुर्भाग्यपूर्ण विषय है।
मोदी मंत्रिमंडल में शामिल होने के लिए ठाकुर से बायोडाटा मांगा गया था, जिसमें उन्होंने अपनी योग्यता हायर सेकेंडरी लिखी थी। 12वीं पास मंत्री को स्लोगन ही लिखते नहीं आ रहा है।’

एमपी के स्कूलों में बच्चों का तिलक-मंत्रों से किया स्वागत

गर्मियों की छुट्‌टियों के बाद मंगलवार से मध्यप्रदेश के सभी सरकारी स्कूल खुल गए हैं। पहले दिन जब बच्चे स्कूल पहुंचे तो उनका तिलक लगाकर और मंत्रोच्चार से स्वागत किया गया। खरगोन में ढोल-ढमाकों के साथ बच्चों की रैली निकाली गई। बैलगाड़ी भी सजाई गई थी। भोपाल में बच्चों को खीर-पूड़ी और आलू छोले परोसे गए। वहीं, शाजापुर के एक सरकारी स्कूल परिसर में नॉनवेज बनाने का मामला भी सामने आया है।