हो जाइए सावधान! कोरोना का फिर बढ़ रहा ख़तरा

हो जाइए सावधान! कोरोना का फिर बढ़ रहा ख़तरा
कोरोना

दिल्ली में कोरोना मरीजों की संख्या दिन-ब-दिन बढ़ती जा रही है। ऐसे में राज्य में कोरोना का खतरा बढ़ने की आशंका है। इस बीच राज्य में ओमाइक्रोन सब वेरियंट के मामले बढ़ते जा रहे हैं और राज्य में कोरोना संकट का असर फिर से शुरू हो गया है।

स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक दिल्ली में बुधवार को 2,073 कोरोना मरीज मिले। पॉजिटिविटी रेट भी बढ़कर 11.64% हो गया है। इससे पहले 24 जनवरी को पॉजिटिविटी रेट 11.79% थी। दिल्ली का पॉजिटिविटी रेट लगातार तीसरे दिन 10% से ऊपर रहा। इससे पहले 4 फरवरी को दिल्ली में 2,272 कोरोना मरीज मिले थे। तो 20 लोगों की मौत हो गई। 25 जून बुधवार से अब तक सबसे ज्यादा लोगों की मौत कोरोना से हुई है। इससे पहले 25 जून को 6 लोगों की मौत हुई थी। दिल्ली में भी मंगलवार को 1,506 मामले सामने आए। तीन लोगों की मौत हो चुकी है। पॉजिटिविटी रेट भी 10.69 फीसदी रहा।

दिल्ली में अब तक 19,60,172 कोरोना मरीज मिल चुके हैं तो 26,321 लोगों की मौत हो चुकी है। पिछले 1 हफ्ते में दिल्ली में पॉजिटिविटी रेट बहुत तेजी से बढ़ा है।सोमवार को, दिल्ली ने 11.41 की सकारात्मक दर के साथ 822 मामले दर्ज किए। तो वहीं 2 लोगों की मौत हो गई। इससे पहले रविवार को 1,263 कोरोना मरीज मिले थे, जबकि पॉजिटिव रेट 9.35% था।

दिल्ली में शनिवार को कोरोना वायरस के 1,333 नए मामले सामने आए। बाद में पॉजिटिविटी रेट 8.39% रही, जबकि 2 लोगों की मौत हुई। शुक्रवार को 1,245 नए मामले सामने आए। जबकि पॉजिटिविटी रेट 7.36 रहा। गुरुवार को 1128 मामले दर्ज किए गए। सकारात्मकता दर 6.56% थी।

दिल्ली में सक्रिय मामलों की संख्या 5,637 पहुंच गई है। जबकि एक दिन पहले यह 5,006 था। हालांकि दिल्ली के अस्पतालों में 9,405 में से सिर्फ 376 बेड ही भरे हुए हैं। वहीं, कोविड केयर सेंटर और कोविड हेल्थ सेंटर में भी बेड खाली हैं। दिल्ली में वर्तमान में 183 नियंत्रण क्षेत्र हैं। तीसरी लहर के दौरान, दिल्ली ने 13 जनवरी को सबसे अधिक 28,876 मामले दर्ज किए। सकारात्मकता दर भी 14 जनवरी को 30.6% तक पहुंच गई, जो तीसरी लहर में सबसे अधिक है।