एक राष्ट्रपति ऐसा भी…डॉ. ए.पी.जे. अब्दुल कलाम की पुण्यतिथि पर हिरण के घायल बच्चे को पानी पिलाते हुए उनकी पुरानी तस्वीर आई सामने

एक राष्ट्रपति ऐसा भी…डॉ. ए.पी.जे. अब्दुल कलाम की पुण्यतिथि पर हिरण के घायल बच्चे को पानी पिलाते हुए उनकी पुरानी तस्वीर आई सामने
डॉ. ए.पी.जे. अब्दुल कलाम

राष्ट्रपति भवन आर्काइव्स ने बुधवार को भारत के पूर्व राष्ट्रपति डॉ. ए.पी.जे. अब्दुल कलाम की पुण्यतिथि पर उनकी एक पुरानी तस्वीर शेयर की है जिसमें वह हिरण के घायल बच्चे को पानी पिलाते दिख रहे हैं ।

गौरतलब है कि 25 जुलाई 2002 से 25 जुलाई 2007 तक राष्ट्रपति रह चुके कलाम का 27 जुलाई 2015 को निधन हुआ था ।

डॉ. कलाम की अगुआई में भारत ने जमीन से जमीन पर मार करने वाली मध्यम दूरी की पृथ्वी मिसाइल, जमीन से हवा में काम करने वाली त्रिशूल मिसाइल, टैंक भेदी नाग जैसी मिसाइल बनाकर दुनियाभऱ में पहचान बनाने में कामयाब रहे ।

इसके बाद डॉ. कलाम ‘मिसाइल मैन’ के नाम मशहूर हो गए ।

कलाम का जन्म 15 अक्टूबर, 1931 को तमिलनाडु के रामेश्वरम जिले के धनुषकोड़ी गांव में हुआ था । उनका पूरा नाम अबुल पक्कीर जैनुलआबेदीन अब्दुल कलाम है. उनके पांच भाई और पांच बहनें हैं ।

मछुआरे घर में जन्मे कलाम साहब का बचपन बेहद अभावों में बीता था. गणित और भौतिक विज्ञान उनके फेवरेट सब्जेक्ट थे । पढ़ाई से डॉ. कलाम को इतना लगाव था कि वो बस स्टैंड पर अखबार बेच कर अपना खर्च निकाला करते थे ।

डॉ. कलाम ने मद्रास इंजीनियरिंग कॉलेज से एयरोनॉटिकल साइंस की पढ़ाई की थी । 1962 में उन्होंने भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन यानी इसरो में नौकरी शुरू की ।