‘लाउडस्पीकर पर फसाद की जड़ कौन?’ शिवपाल यादव ने उठाया सवाल

‘लाउडस्पीकर पर फसाद की जड़ कौन?’ शिवपाल यादव ने उठाया सवाल
शिवपाल यादव

प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (प्रसपा) के अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने उत्तर प्रदेश में पूजा स्थलों पर लगे लाउडस्पीकर हटाने और आवाज कम करने को लेकर सवाल किया है कि अचानक शुरू हुए इस फसाद की जड़ कौन है।

शुक्रवार को यादव ने कहा कि प्रदेश में सदियों से भजन, कीर्तन, गुरुवाणी और अजान के स्वर गूंजते रहे हैं लेकिन किसी ने इस पर कभी भी सवाल नहीं उठाया। यहां तक कि यह सिलसिला लाउडस्पीकर के आविष्कार से भी पहले अनवरत जारी रहा है लेकिन अचानक से यह विवाद की श्रेणी में कैसे आ गया, इसका पता लगाना बहुत जरूरी है।

उन्होने ट्विटर पर लिखा कि, ”सैंकड़ों सालों से देश की गंगा-जमुनी तहजीब में भजन, कीर्तन, अजान व गुरुवाणी के स्वर सहअस्तित्व के साथ गूंजते रहें हैं। लाउडस्पीकर के आविष्कार के बहुत पहले से। किसी ने इस पर सवाल नहीं उठाया। ईश्वर न तब बहरा था और न अब बहरा है। बुनियादी सवाल है कि अचानक शुरू हुए इस फसाद की जड़ कौन है?”

गौरतलब है कि हाई कोर्ट के निर्देशानुसार पूजा स्थलों पर लगे लाउडस्पीकरो की आवाज कम करने और उन्हें हटाने का अभियान राज्य सरकार ने शुरू किया है और पिछले तीन दिनों में 12 हजार से ज्यादा लाउडस्पीकरो को हटाए जा चूका हैं। देश भर में पूजा स्थलों पर लगे लाउडस्पीकर पर राजनीती गर्माई हुई है।